बट बाइट और वैलेंटाइन

हाय…फ्रेंडस मैं निहारिका। इस बार मैं आपसे अपनी 2016 वैलेंटाइन की एडवेंचर्स सेक्स एक्सपीरियंस शेयर करुंगी। अपनी अनोखी सेक्स सेशन शेयर करने से पहले मैं ये बता दूं कि…पिछले साल वैलेंटाइन डे के दिन फहीम से मैं रिलेशन करीब 7 महीने बाद बना रही थी। क्योंकि वो अपने आपी और जीजू के पास सिंगापुर गया था। वहां उसके जीजू का एक्सीडेंट हो गया था। इसलिए उसे वहां जाना पड़ा था।

वैसे सिंगापुर में रहने के दौरान भी हम लगभग रोज फोन या चैट से कॉन्टेक्ट रखते थे। वीडियो चैट और व्हाटस एप के जरिए हम एक दूसरे की जुदाई की फीलिंग को शेयर करते थे। और ये फीलिंग इमोशनल होने के साथ ही इरोटिक और फिजिकल भी होती थी। वीडियो चैट पर हम दोनों एक दूसरे को देखते थे और फिर हजारों मील की दूरी की तड़प…फिजिकली जाहिर भी करते थे। इट मिन्स हम एक दूसरे को देखते हुए मस्टरबेशन भी करते थे।

हम दोनों एक दूसरे के वर्चुअली कपड़े उतारते थे….सकिंग, किसिंग,लिकिंग और वो सब करते थे। जो हम सामने मिलने पर करते रहे थे। दोनों एक दूसरे के कपड़े उतरवाते…अपनी अपनी पसंद के अंडरगारमेंटस पहनने को कहते और फिर उसे एक एक कर उतारते। इस दौरान मैं उसे ज्यादा टीज करती थी। आप कह सकते हैं कि मैं अपने बुब्स, हिप्स और पूसी दिखाने से पहले खूब नखरे करती और उसे चिढ़ाती थी। जिससे कभी कभी वो इरीटेट भी हो जाता था। वैसे मेरी पूसी बूब्स और हिप्स को देखकर फहीम कभी कभी ऐसा फव्वारा छोड़ता था कि…उसके स्पर्म कैम की लेंस पर भी आ जाते थे।

जब से फहीम सिंगापुर गया था…वो चैट पर मेरे हिप्स देखकर अक्सर कहता था कि…इस बार मैं तेरे पीछे से एंट्री लूंगा। और मैं उसे अपने हिप्स दिखाकर…उसे हिलाकर और फिर फैलाकर और टीज करती थी। चैट पर ही उसने मुझे बताया कि…आबिद ने पूनम के साथ एनल ट्राई किया था। लेकिन बेइंतहां दर्द की वजह से पूनम रोने लगी और आबिद को मायूस होना पड़ा। हालांकि आबिद के साथ एनल ट्राई की बात पूनम ने मुझसे ना जाने क्यों छिपाई थी। वैसे मैं आप लोगों को बता ही चुकी हूं कि इन दोनों पठानों के लंड तो पूरे गदहे जैसे ही थे। आगे जान निकलने लगती थी….पीछे तो लेने पर मरना ही तय था।

खैर उस इडियट ने 12 फरवरी को इंडिया पहुंच कर मुझे सरप्राइज दिया। फोन पर उसने बता दिया कि वैलेंटाइन डे के दिन मामा जी के फ्लैट पर मिलेंगे। आबिद और पूनम को भी जाना था। मुझे और पूनम को रेड ड्रेस विद रेड अंडरगारमेंटस पहनकर आने का हुक्म सुनाया गया था। सो हम कहे मुताबिक तैयार होकर पहुंच गए। पूनम तो नहीं लेकिन सात महीने बाद एक बार फिर पठानी जिस्म का साथ मिलने की गुदगुदी मेरे दिल दिमाग के साथ शरीर के दूसरे नाजुक हिस्से में भी महसूस हो रही थी। फ्लैट पर पहुंचने पर फहीम ने ही दरवाजा खोला। और मुझे देखते ही आंख मारते हुए मुझे कमर से पकड़कर अपने सीने से लगा लिया। पूनम ने कहा भी इतने बेशर्म मत बनो। कम से कम घर के अंदर तो आने दो इसे…फिर जो चाहो कर लेना। इतने महीने दूर रहने की भड़ास निकाल लेना चाहे। और पूनम ने मेरे हिप्स पर चिकुटी काटते हुए अंदर आबिद के पास भाग गई। उधर आबिद भी अपने पठान सूट में अपने छोटे नवाब को तैयार किए बैठा था। पूनम के पहुंचते ही उसे गोद में बिठाकर….लिपकिस करना शुरु कर दिया। इस बीच मैं और फहीम एक दूसरे को पकड़े हुए दूसरे कमरे में चले गए।

कमरे में अंदर घुसते ही फहीम ने ताबड़तोड़ मुझे चूमना शुरु कर दिया। मेरे बुब्स और हिप्स को ऐसे मसलने लगा जैसे मैं उससे पहली बार मिल रही थी। सात महीने तो मैं भी तड़पी थी फहीम और उसके छोटे नवाब के लिए। सो मैंने भी उसे खूब जोर से पकड़कर लिपकिस में साथ देना शुरु कर दिया। साली तुमने मुझे चैट पर बहुत तड़पाया है। आज तुझसे सबका हिसाब लूंगा। और मेरे बुब्स को पकड़कर दबाने लगा। काफी दिनों बाद फहीम के मजबूत हाथ लगने से मेरे बूब्स तनकर खड़े हो चुके थे। और पूरे शरीर के साथ नीचे कुछ ज्यादा ही गुदगुदी शुरु हो गई थी।

क्या करोगे ? खाओगे क्या आज मुझे ? ज्यादा परेशान किया तो आज इस छोटे नवाब को काटकर घर ले जाउंगी। फिर इसे ढूंढते रहना। इतना सुनते ही फहीम ने मेरे हिप्स को दबाते हुए अपनी एक उंगली मेरी बट क्रैक में घुसा दी। साली आज….इस अंजान रास्ते से एंट्री करुंगा। कहा था ना तुमसे। मैंने कहा—चल दिन में सपने ना देख। इतना आसान है क्या? हमदोनों में नोंकझोक होने लगी। मैंने उसे बेड पर गिरा दिया और उसके ऊपर बैठ गई। मैंने लॉंग फ्रॉक पहनी थी। सो दोनों पैरों को अगल बगल कर फहीम के पेट पर बैठ गई। मेरी गरम जांघों का एहसास जब फहीम को हुआ तो उसने कहा कि….और ऊपर आकर बैठ ना। इसके बाद मैं उसके सीने पर आ गई…..अब बोल क्या बोलता है?

इस बीच मैं जानबूझकर अपनी कमर आगे पीछे कर के…फहीम को और अराउज कर रही थी। फहीम मेरे बुब्स से खेलते हुए…कहा कि अपने छोटे नवाब को नहीं देखेगी? मैंने कहा—देख रही हूं बहुत उछलकूद कर रहा है। इस बीच फहीम फिर मुझसे एनल सेक्स की बात करने लगा। मैं समझ गई कि आज इस पठान छोकरे की नीयत ठीक नहीं है। आज लगता है वैलेंटाइन पर ये वहशी बनेगा।

मैंने कहा चुप रहो…फालतू बोलोगे तो तुम्हारी जुबान बंद कर दूंगी। उसने हंसते हुए कहा कैसे बंद करोगी जान। उसकी बात खत्म होती इससे पहले ही मैं उछलकर उसके मुंह पर बैठ गई। मेरी फ्रॉक के अंदर फहीम का चेहरा आ चुका था। सो मैंने दोनों जांघों से उसका चेहरा दबा दिया। हाय जान,,,,,आज कितने दिनों बाद तेरी चूत की सुगंध मुझे मिली है। बहुत तड़पा हूं तेरी इस बेशकीमती चूत के लिए। और इतना कहते हुए उसने अपनी जीभ मेरी पैंटी पर रगड़नी शुरु कर दी। क्या कर रहे हो पागल…..।

सिंगापुर जाकर बिल्कुल पागल हो गए तुम। नीहू ऐसी ही बैठी रह….मैं तेरी चूत चाटता हूं। मेरी पैंटी को उंगलियों से हटाकर फहीम मेरी चूत में अपनी जीभ घुसाकर चाटने लगा। इस बीच मैं उसकी सलवार से छोटे नवाब को निकालकर उसे हाथ से मालिश देने लगी थी। मेरा हाथ लगते ही छोटे नवाब और तन गए थे। पूरे सात महीने बाद पठानी लंड को अपनी हथेली में लेकर मैं निहाल हो गई थी। मैं घूमकर बैठने के साथ ही 69 की पोजिशन लेते हुए…छोटे नवाब पर अपना प्यार उघेड़ने लगी। फहीम मेरी पैंटी को नीचे खिसका चुका था। नीहू सात महीने तेरी चूत को मेरा पठानी लंड नहीं मिला तो…मायूस होकर ये मुरझा सी गई है। और तेरी चूत तो ऐसी चिपक गई है…जैसे इसकी कभी चुदाई ही ना हुई हो। इतना कहते ही उसने अपनी दो उंगलियां मेरी चूत में डाल दी। आहहहहहहहह….फहीम पागल हो क्या ? मैं फहीम के लंड को अपने गले तक उतारते हुए….उसके हेड को हल्का हल्का बाइट कर रही थी। अरे साली…वाकई तो आज छोटे नवाब कर को काट कर ले जाने के मूड में आई है क्या? ठीक है…ऐसा है तो फिर मैं भी आज तेरी क्लोज बैकडोर को हर हाल में खोलूंगा। इतना कहते ही फहीम मेरी गांड को फैलाकर उसे सहलाने लगा……। नीहू वाकई तेरी चूत से ज्यादा आज मुझे तेरी गांड सेक्सी लग रही है। मैंने उसके बॉल को दबाते हुए कहा….शट अप …..।
वैलेंटाइन स्पेशल चुदाई का आगे का हाल….14 तारीख को।

आपकी निहारिका

Related Post

Share on TumblrTweet about this on TwitterShare on RedditShare on VKShare on Google+Pin on PinterestEmail this to someone
This post was submitted by a random interfaithxxx reader/fan.
You can also submit any related content to be posted here.

2 Comments

  1. hamari hindu bahano ko aap muslim maliko ne kaise choda ye batane ke liye adhik story share kijiye pls taki hum apna sisy lulla hila sake.kyoki hindu ladkiya aap logo se chudti rahti hai hame kuch karne nahi deti.

  2. pls maliko ye kahaniya bhi bataiye ki kaise akber ne jodha ki chut chutney banai.aur muslim sainiko ne kaise 10 10 hindu ladkiyo ko rakhail banaya.

Leave a comment

Your email address will not be published.


*