मुस्लिम लंड की तडप

में एक बहुत ही अमीर हिन्दू फैमिली से बिलोंग करती हूं जैसा की आप सभी जानते है की हम हिन्दु फैमिली काफी एडवांस होती है और जो फैमिली अमीर होती है उनके यहां तो पुरी तरह से आजादी जैसे बात होती है जैसा दिल करे वैसा पहनो ओर जिधर दिल करे उधर घूमो ।में भी अपनी लाइफ में इन चीजों के बहुत मज़े ले चुकी हूं । मेरी शादी भी एक बहुत ही बड़े घराने में हुई है । मेरे शादी से पहले भी मेरे दोस्तों के साथ शारीरिक सम्बंध रह चुके है और शादी के बाद भी मैंने खूब मस्ती की है पर मुझे सच मे असली मजे का पता नही था । मेरे जितने भी दोस्त थे सभी हिन्दू थे हालांकि मेरे पति भी मुझे पूरी तरह से संतुष्ट कर देते थे और में खुश थी ।

मेरे पति मुझे महीने में 3 या 4 बार चोदते ओर बीच बीच मे मुझे जब भी मौका मिलता मैं अपने फ्रेंड्स के साथ भी सेक्स करती ।
सभी मुझे बहुत ही प्यार करते और सेक्स करते वक़्त मेरे साथ गुड़िया जैसा ट्रीट करते जैसे की में कोई मोम का पुतला हु मुझे कुछ हो न जाये मुझे भी ये सब बहुत अच्छा लगता ।परन्तु पिछले महीने में अपने पति के साथ घूमने गयी तो मेरे पति ने मुझे मोबाइल पर कुछ ब्लू मूवीज दिखाई इसमे से 1 मूवी हिन्दू लड़की ओर मुस्लिम लड़के की original क्लिप्स की थी जिसमे मुस्लिम लड़का हिन्दू लड़की को बुरी तरह से चोद रहा था और लड़की भी खूब मस्त हो कर चुदवा रही थी । लड़के का लण्ड ब्लू फिल्म की तरह बहुत मोटा ओर लम्बा था मैंने ऐसा लण्ड केवल फ़िल्म में ही देखा था मैं नही मानती थी की ऐसा मोटा लम्बा लण्ड रियल मे भी हो सकता है । मेरे पतिदेव ने मासूमियत में बताया की ये क्लिप्स original है तो मेरी चूत में खुजली शुरू हो गयी की सच मे भी ऐसा लण्ड हो सकता है इतना बढ़ा ।

में हर वक़्त मुस्लिम लण्ड के बारे में सोचने लगी । अब मुझे मेरे पति का सेक्स फीका लगने लगा मुझे कुछ भी मजा नही आ रहा था मेरे दोस्तों के साथ भी मैन सेक्स किया पर वो मुझे खुश नही कर पाये उल्टा में उनसे पूरी तरह निराश ओर नाराज हो गयी ।अभी कुछ दिन ही बीते थे की मेरी खुशकिस्मती से हमने आपने घर पर रंग रोगन का काम स्टार्ट किया और वाह वाह वाह वाह अल्ला की कृपा से रंग रोगन करने वाले मुस्लिम थे । उनकी नजर पहले दिन से ही मेरी जवानी पर चढ़ गई और मुझे घूर घूर कर देखने लगे मैं तो मन ही मन पहले ही मुस्लिम लण्ड की दीवानी हो चुकी थी ओर अंदर ही अंदर मुस्लिम लण्ड को सोच सोच कर चूत में उंगली करती थी और पानी छोड़ती थी ।

खुशकिस्मती से मुझे बहुत ही जल्द मुस्लिम लण्ड मिलने वाला था पर फिर मैंने जाना की मुस्लिम लण्ड मिलना इतना आसान नेही इसके लिए हिन्दू औरत को बहुत प्रयास करने पड़ते है यहाँ तक की मुस्लिम लण्ड पाने के लिए कुतिया भी बनना पड़ता है ।
जैसा की आप सभी जानते है मेरे घर पर रंग रोगन का काम शुरू हो चुका था और पेंटर मुस्लिम थे वो मुझे बहुत ही अश्लील नजर से देखते थे । हालाँकि मैं जल्द से जल्द मुस्लिम लण्ड अपनी चूत में चाहती थी पर मुझे अपनी सुंदरता पर बहुत घमण्ड था और उन पेंटरों को उनकी औकात दिखाते हुए इग्नोर कर रही थी पर ये क्या वो तो सचमुच के मर्द थे वो मुझे बिल्कुल ही इग्नोर करने लगे ।अब मेरी स्तिथि उल्टी हो रही थी में उन्हें रिझाने की कोशिश करने लगी पर वो मेरी ओर देखते भी नही थे उनको काम करते हुए लगभग दस दिन हो चुके थे इसी बीच अब मैं मुस्लिम लण्ड के लिए पूरी तरह तड़फ रही थी और उन्हें पटाने की हर मुमकिन कोशिश कर रही थी । तभी 1 दिन मेरी आँखें फटी रह गयी उस दिन मेरे घर पर मेरे बिना कोई भी नही था और में उस दिन अपनी हिन्दू प्यासी चूत को मुस्लिम लण्ड खिलाने के पक्का वादा कर चुकी थी परन्तु अभी उनको काम शुरू किया घण्टा भर भी नही बिता था की मैन देखा उनमे से एक पेंटर किसी को फ़ोन कर रहा था पर ये क्या कुछ ही समय बाद मेरे पड़ोस में रहने वाले शर्मा जी की बेटी मेरे घर पर आई उसने बहुत ही सलीके से कपड़े पहने हुए थे परंतु में उसकी निडरता पर दंग रह गयी घर मे प्रवेश करते ही उसने कुर्ता ओर सलवार उतार दिया अब उसके जिस्म पर बहुत ही महीन किस्म का नेट वाली शार्ट स्कर्ट थी और बिना मेरी परवाह किया मुझे आदेश देते हुए :- भाभी जरा गेट पर ध्यान रखना कोई आ न जाये कहते हुए उस मुस्लिम पेंटर के कदमो में बैठ गयी और उससे उसके लन्ड को चूसने की भीख मांगने लगी में बिल्कुल अवाक थी तभी शर्मा जी की बेटी चलायी हरामजादी इधर क्या टूकर टूकर देख रही है जा गेट पर जाकर चौकीदारी कर में बिल्कुल स्तम्बध चुपचाप गेट की तरफ चल दी पेंटर मेरी तरफ देख कर मुस्करा रहे थे और में बिल्कुल हैरान थी वो लड़की बिल्कुल कुतिया की तरह बर्ताव कर रही थी और पेंटर उसे अपने इशारों पर नचा रहा था । मैं दूर खड़ी ये दृश्य देख कर पागल हो रही थी और मेरी चूत लगातार पानी छोड़े जा रही थी अब मैं चुदाई की आग में बिल्कुल पागल हो चुकी थी में गेट को बंद करके भाग कर उनके पास आ गयी और उस पेंटर के लण्ड को पकड़ लिया पर ये क्या मेरे सीने पर एक जोर से लात पड़ी और में दूर जा गिरी मेरे ऊपर थूकते हुए पेंटर बोला साली हिन्दू रंडी तेरी इतनी औकात नही की तू इस लण्ड को हाथ लेगा सके में अब बहुत गर्म हो चुकी थी में घुटनों के बल बैठ कर उससे उसके लण्ड के लिए भीख मांगने लगी पेंटर ने जोर से कहकहा लगाया और बोला साली हरामजादी हिन्दू कुतिया आ गयी अपनी औकात पर । पर तेरी औकात अभी इतनी नही हुई की कोई मुस्लिम लण्ड तेरी चूत को मिल जाये ।तभी उसने सुमन को मेरी तरफ इशारा करते हुए कहा—–बता दे इस रंडी को की मुस्लिम लण्ड के लिए तुम हिन्दू रंडियों को क्या क्या करना पड़ता है । वो हसने लगी और में बार बार एक ही बात चीख चीख़ कर कह रही थी है में हिन्दू रंडी तुम मुसलमानो की कुतिया सब कुछ करूगी जो तुम बोलोगे सब करुँगी बस एक बार मुझे अपने लण्ड का स्वाद चखा दो बस एक बार ।

Related Post

Share on TumblrTweet about this on TwitterShare on RedditShare on VKShare on Google+Pin on PinterestEmail this to someone
This post was submitted by a random interfaithxxx reader/fan.
You can also submit any related content to be posted here.

29 Comments

  1. nice entertaining stories and love this website

    • निधि ये entertaining नही बिल्कुल सत्य घटना है । लगता है तुमने अभी तक कोई मुस्लिम लण्ड देखा नही ।

      • ये घटनाएं हर हिंदू घर में हो रही है और हर हिंदू घर में मुस्लिम अपने चार इंच मोटे दस इंच लंबे लंड से गोरी गोरी गदराई हिंदू बुर चोदते मिल जाएगे और अपने पति पीता भाई के सामने ही मुस्लिमों से गांड उछाल उछाल कर बुर चोदवाती हिंदू लडकियां औरतें बच्चियां दिख जाएंगी

        • अरुण भैया इसमे हिन्दू लड़कियों का कोई दोष नही है । तुम हिन्दू अब नामर्द हो चुके हो तुम्हारे में इतनी ताकत नही बची की हिन्दू औरत को संतुष्ट कर सको । सही बोलु तो तुम लोग खुद अपनी बहन,बीवी,बेटी को मुस्लिम मर्द से चुदते देख कर खुश होते हो ।

          • True words neha siso

          • दिव्य बहन सच का समर्थन करने के लिए शुभ आशीष अल्ला से दुआ है तुम्हे जल्दी ही मुस्लिम लण्ड मिले ।

          • Ur welcome neha
            Tumhari duaa har Hindu ladki ko lage
            God bless you

    • कहानी पसन्द करने के लिए धन्यवाद ।बहन इतनी लंबी वाह लगता है तुम बहुत पहले ही मुस्लिम लण्ड का आनंद ले चुकी हो ।

  2. next stories part plese

    • हैं बहन बहुत ही जल्द
      मैंने पोस्ट कर दी है अब ये। एडमिन साहब पर है की वो आप लोगो के पास कब पँहुचाते है ।

    • मेरी बहन एडमिन जी ने अगले पार्ट को इसी के साथ edit करके जोड़ दिया है ।

  3. मेरी कहानी को पोस्ट करने के लिए एडमिन साहब आपका बहुत धन्यवाद । परन्तु आपसे अनुरोध है की मेरी कहानी को मेरी पिछली कहानी के पार्ट के साथ न जोड़ कर अलग अलग ही पोस्ट करें ।

  4. Ek practicing muslim ka life style Bahot alag hota hai.actually wo apne har step pe khuda ki Ibadat karta hai per ye Ibadat us ko physically mentally aur emotional Bahot strong banati hai jisse wo Hindu chut ki dhajjiyan uda deta hai.I m a practising muslim n I have felt it.it’s true.Wese murti puja karnewali girls humpe haram hain.hum Christian ya Jews se shadi kar sakte hain per buto ki puja karnewali mushrika (kafir) se nahi.but Hindu girls ki chut pe muslim Lund ko ragadte hi Hindu girls jese mast hoke chudwati hai.mera to Iman hi dol jata hai..Kash koi aisi hindu girl ho jo Islam qabul kar ke muslim ban jaye to main usse shadi kar luga..kik me sahilkhan877

  5. such I am ready sahil

    • साहिल मालिक सलाम
      आपको अपना ईमान डोलाने की कोई जरूरत नही है और न ही ये सोचे की कोई हिन्दू औरत इस्लाम धर्म कबूल करे और फिर आप उससे शादी कर ले । हिन्दू औरत को मुस्लिम लण्ड लेने के लिए मुस्लिम से शादी करने की कोई जरूरत नही है और न ही वो मुस्लिम से शादी करना चाहती है वो तो मुस्लिम लण्ड की गुलाम रंडी बन कर रहना। पसंद करती है और फिर अगर वो मुस्लिम से शादी कर भी लेगी तो उसे एक नामर्द नौकर कैसे मिलेगा जो उसकी ओर उसके मुस्लिम यार की हर इच्छा पूरी करे । उनके सेक्स करने से पहले उनके लिए बिस्तर कौन लगाए सेक्स के बाद चाट चाट कर चूत ओर लण्ड को कौन साफ करें । सेक्स के बाद उनके टांगे कौन दबाये ओर उनके लिए दूध और बीफ आदि का इंतज़ाम कौन करे ।

      • true Neha di
        in my family all females( girls, mature ) are enjoying Muslim dicks day n night and all males are happy in doing all these holy jobs of sucking our pussy filled with potent muslim seeds, cleaning mighty lunds

        • हा हा हा हा
          सुधा दीदी इसके लिए तो तुम्हारे परिवार के सभी नामर्द तुम लोगो के शुक्रगुजार है जो तुम्हारे कारण उन्हें उनकी सबसे स्वादिष्ट चीज खाने को मिलती है ।

    • Sama meri jan kik pe aao.m waiting if u r ready to taste my lund whole life ..Sahilkhan877

  6. neha darling uuummmaaah tera I’d de

    • रहमान मालिक आप मेरी चूत लीजिये न जो आपके मुस्लिम लण्ड का शिदत से इंतजार कर रही है ।

  7. Neha ekdam sach kaha tumne yeh hamara doodh makkhan malai kha kha ke hamara jism aisa bahr jat ahai ki iske liye bahot jalim tagde mard kijarurat hoti hai aur owh sab yeh muslim akr sakte hai

    • सुनीता दीदी हम हमारा जिस्म दूध मखन से नही मुस्लिम लण्ड की मलाई से ओर तगड़ी चुदाई से भरता है । जब ये मुल्ले बीफ खा कर हमारी चूत की सवारी करते है तो सारी दुनिया के मजे पीछे छूट जाते है फिर तो दिल से बस एक ही दुआ निकलती है काश ये टाइम कभी भी खत्म न हो । ओर अगर हो तो अल्ला ये मौका जल्दी ही दुबारा देना ।

  8. Plz do not post such stories… I m a hubby n my wife is regular visitor of this site. She reads such stories n ask me to perform like muslims.Bt as I m hindu guy..I m not able to satisfy her like these stories. So due to this..She regular fights with me n humiliates me whenever she gets chance. Now, even I think..If any muslim can satisfy her with her fantasies. Contact me on kik..rrj2002. Hindu guys..Plz stay away

    • ओह सनी हिन्दू भैया
      अब तुम को भैया ही कहूंगी क्योंकि तुम सारे हिन्दू नामर्द हमारे साथ कुछ कर तो सकते नही इसलिए तुम हम हिन्दु औरतें के भाई ही तो हुए ।
      सनी भैया अपनी बीवी को किसी भी मुस्लिम से चुदवा दो वो उसे संतुष्ट कर देगा । मुस्लिम में ऐसा नही होता के any muslim who can satisfy my wife सभी मुस्लिम तेरी बीवी की चूत को खोल देगे ओर तुझे भी मस्त कर देंगे ।चिंता मर करना इन मुस्लिम को पता है की हिन्दू नामर्द को क्या चाहिए😜😜😜😜

  9. Neha Teri chudayi to bahot rough hogi bol darling Teri I’d

    • बिल्कुल रहमान जी में हमेशा मुस्लिम से ही चुदवाती हु आप खुद ही सोच ले की मेरी चुदाई कैसे होती होगी
      रफ़ या प्यार से
      मेरी किक id nehaalaxmi

  10. neha msg kiya kik per aaja

Leave a comment

Your email address will not be published.


*